आईआईटी छात्रों का मैनेजमेंट की तरफ बढ़ा रुझान

कानपुर। आईआईटी से बीटेक करने के बाद मोटे पैकेज की जॉब के बजाय आईआईटी मैनेजमेंट की तरफ रुझान कर रहें हैं। जिसका संकेत कॉमन एडमिशन टेस्ट यानि कैट की परीक्षा में दर्जनों उत्तीर्ण आईआईटीयंस है। यह सभी आईआईटीयंस आईआईएम अहमदाबाद से एमबीए करने के इच्छुक है।
आईआईटी से बीटेक करने वाले छात्रों में अक्सर देखा जाता है कि समय के अनुसार अपना कैरियर बदलते रहते है। कभी विदेशी कंपनियों में अच्छे पैकेज पर जॉब करते हैं तो कभी प्रशासनिक सर्विस में भाग्य अजमाते हैं। इसके साथ ही आईआईएम से एमबीए करना भी एक अच्छा विकल्प रखते हैं।

कैट की परीक्षा में कई दर्जन कानपुर आईआईटी के छात्रों की सफलता से इस बात की संभावना बढ़ गई है कि अब दौर मैनेजमेंट का आ गया है। यही नहीं, ऐसे छात्र कैट परीक्षा में उत्तीर्ण हुए है जो मोटे पैकेज पर अच्छी कंपनियों में जॉब पा चुके है। यही नहीं कुछ आईआईटीयंस स्टूडेंट ग्रुप डिस्कशन (जीडी) और पर्सनल इंटरव्यू (पीआई) को पास कर विदेश में अच्छी जॉब कयनित हो चुके हैं।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से बीटेक फाइनल कर रहे यश पारिख का कहना है कि जापान की मित्सुबिशी कंपनी में जॉब लग गई है और इधर कैट में ही क्वालीफाई हो गया हूं। समय के अनुसार, फैसला लिया जाएगा कि किसको छोड़ा जाए लेकिन एमबीए करने की अधिक संभावना है। इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से ही बीटेक फाइनल कर रहे व कैट परीक्षा में थर्ड सिटी टॉपर कन्हैया नामधर का कहना है कि एमबीए करने के बाद जॉब अच्छी मिल जाती है ऐसे में एमबीए करना पहली प्राथमिकता है। फिलहाल कन्हैया नामधर अमेरिका की सॉफ्टवेयर कंपनी गोल्डमैन में जॉब कर रहे हैं।

इसी तरह, बीटेक इलेक्टिकल इंजीनियरिंग फाइनल ईयर के स्टूडेंट अखिल गर्ग व विभोर वर्मा को भी जॉब मिल चुकी है और कैट परीक्षा में भी सफलता हासिल कर चुके हैं। ये सभी स्टूडेंट जॉब को छोडऩे का मन बना चुके हैं, जिससे यह कहा जा सकता है कि एक बार फिर आईआईटीयंस का चक्र एमबीए की ओर घूम गया है।
– एजेंसी



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *