शाही स्नान के साथ राजिम कुंभ का समापन, साधु-संतों की निकली शोभायात्रा

रायपुर। राजिम महाकुंभ कल्प का महाशिवरात्रि के अवसर पर शुक्रवार की शाम समापन होने जा रहा है। शुक्रवार सुबह 6 बजे साधु-संतों की भव्य शोभायात्रा निकली। नागा साधुओं की अगुआई में शौर्य प्रदर्शन करते हुए यह शोभायात्रा संत समागम से निकलकर नवापारा होते हुए राजिम पहुंची। इसके बाद त्रिवेणी संगम पर बने कुंड में सभी संत-महात्माओं ने शाही स्नान किया। कुंभ के समापन मौके पर शाम को समापन समारोह महामंडलेश्वरों, पीठाधीश्वरों, साधु-संतों, जनप्रतिनिधियों और गणमान्य नागरिकों की गरिमामय उपस्थिति में राजिम के मुख्य मंच पर होगा।

महाशिवरात्रि के मौके पर कुंभ मेले गए प्रदेश के धर्मस्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि इस कुंभकल्प का सारा श्रेय साधु-संतों को जाता है, जिनके आशीर्वाद से यह प्रतिवर्ष सफल रूप से हो रहा है। शास्त्रों में कहा जाता है कि जहां संत होते हैं, वहां अमृत वर्षा होती है।

इस अवसर पर चिदानंद महाराज ने कहा कि छोटे-छोटे सुख के साधन की खोज करने के लिए हम अपने लक्ष्य से भटक जाते हैं। आनंद का स्वरूप परमात्मा में है। साधन का सही उपयोग करें और परमेश्वर को प्राप्त करें। महामण्डलेश्वर रामानंद महाराज ने कहा कि परमात्मा का एक ही स्वरूप है। सद्कर्म करोगे तो परमात्मा आपके करीब ही दिखाई देगा।
– एजेंसी

 



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *