Virat Post

Rajasthan News Site

कोरोना लॉकडाउन – यही तो हमारे भारत देश की एकता और अखंडता है

मुकेश बिवाल

जयपुर (विराट पोस्ट) कोरोना वायरस के कारण दुनिया में खौफ बना हुआ है। अब आपसी रिश्ते भी  एक दुसरे के लिए बेगाने लगने लगे हैं , लेकिन कुछ लोग मानवता का धर्म निभा रहे हैं। एक-दूसरे की सहायता के लिए भी लोग आगे आ रहे हैं।

ये भूमि वीर और वीरांगनाओ के इतिहास को समय-समय पर दोहराती रही है, इस भूमि के वीरों ने सर पर कफन तो कई बार बांधे हैं, पर इनके जोश में कभी कमी नही आई  ।

छल-बल की लड़ाई तो दुनिया में बहुतो ने देखी होगी, पर इस समय कोरोना वाइरस के खिलाफ लड़ी जा रही लड़ाई में हमारा भारत देश अपनी अखंडता और एकता का लोहा समूचे विश्व में मनवा रहा है।

इस कड़ी में  आज हम बात कर रहे हैं, उन वीर और साहसिक पुलिस अधिकारियों की, पुलिश कर्मचारियों की, स्वास्थ्य विभाग के डाक्टर्स व् नर्सिंग कर्मचारियों की, सफाई कर्मचारियों की और उन समाज सेवी संस्थाओ की जिन्होंने अभी तक अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना वाइरस पर लगाम लगाई है साथ ही गरीब असहाय मजबूर लोगों तक सेवाए पंहुचा कर अपनी मानवता को दर्शाया है।

ये सभी वर्ग सेना के जवानों की तरह दिन-रात इस मुश्किल घड़ी का सामना कर रहे है, जहां पुलिस की छवि को हमेशा एक अलग नजरिए से देखा जाता था, वहीं पुलिस आज आम आदमी की हिफाजत के लिए मिशाल बन कर मोर्चा सम्भाले हुए हैं सलाम करते हैं इन वीरो को, जिन्होंने इस मुश्किल समय में अपने आप को समाज हित में न्योछावर कर रखा है ।

पुलिस विभाग की जितनी तारीफ की जाए कम है  पुलिस अधिकारी व् पुलिस मैन बीमारों को होस्पिटल , भूखों को खाना ,मजबूरों को सहायता सभी काम तो पुलिस दिल से निभा रही है ।

डाक्टर्स और नर्सिंग टीम भी अपनी जान की परवाह किए बिना जन सेवा के धर्म को निभा रहे हैं, कोरोना को मात देने में लगे डाक्टर भी कई  जगहों पर इस बीमारी से अपने प्राण गवा चुके हैं। हम सब को मिल कर दुआ करनी चाहिए कि आज हमारे ये रक्षक सलामत रहें  इनकी सलामती ही हमारे देश की खुशहाली है ।

उन समाज सेवको को भी हम सब सलाम करते है जिन्होंने इस समय अपना धर्म मानव सेवा को माना है स्मरण रहे समाज हित में की गई सेवा कभी व्यर्थ नही गई है

कोरोना आज लॉकडाउन हो चुका जब आम आदमी अपने घरो में निवास कर अपने आप को सुरक्षित कर चुके हैं

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सम्बोधन में जो भाव रखे उन सब बातो का सम्मान हमे रखना चाहिए यही तो हमारे भारत देश की एकता और अखंडता है  ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *