Virat Post

Rajasthan News Site

बारिश के मौसम में ये बीमारियां बन सकती है जानलेवा, करे ये उपाय

मानसून दस्तक दे चुका है। हर बार की तरह भारी बारिश से सड़कें पानी से भर चुकी हैं। भारत के कई राज्यों में मानसून आना शुरू हो गया और कई जगह आने के तैयारी में है। बारिश के दिनों में सेहत का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है। इस समय गंदे पानी, व सडी गली खाने की वस्तुएं और मौसम में नमी के चलते कीडाणुओं व मच्छरों के उत्पन्न होने की संभावनाए बनी रहती है।

जानते है बारिश के मौसम में कौन सी बीमारियां आपको बीमार कर सकती हैं और इन बीमारियों की कैसे रोकथाम की जा सकती हे। देखा गया है कि जहां अधिक बारिश होती है वहां ज्यादातरं दस्त, पेचिस, हैजा और टायफायड जैसी बीमारियां फैलने की ज्यादा आशंका होती है। इनसे बचने के लिए सबसे जरूरी है कि स्वच्छ पानी पीया जाए या पानी को उबालकर पिएं। अगर साफ पानी की सप्लाई नहीं हो सकती है, तो पीने के पानी में क्लोरीन टैबलेट का इस्तेमाल करना चाहिए।

बिजली के उपकरणों का करे सावधानी से प्रयोग

अगर छत या दीवार गीले हैं, तो पंखा बंद ही रखें और स्वीच बॉर्ड को न छुएं। बिजली के तार और अन्य सामानों से एक निश्चित दूरी पर रहें। चूंकि पानी विद्युत का सुचालक होता है, ऐसे में बिजली का झटका लगने का खतरा रहता है। इसके साथ ही गीले कारपेट और फर्नीचर के बीच एल्युमिनियम फॉयल के शीट्स रखने चाहिए। घरों में चप्पल पहन कर रहें वरना बैक्टीरिया से इन्फेक्शन होने का खतरा भी होता है।

मक्खी-मच्छर से फैलने वाली बीमारियों से बचाव

बारिश के दौरान मक्खी और मच्छरों से फैलने वाली बीमारियां जैसे टायफायड और दस्त जैसी बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ जाता है इसलिए जरूरी है कि कहीं पर भी पानी का भराव न रहने दें। इसके साथ ही मच्छरों से फैलने वाली बीमारियों से बचने का सबसे अच्छा तरीका मच्छरदानी का इस्तेमाल करना है। जब भारी बारिश हो रही हो, तो बाहर निकलने से बचें और किसी काम से निकलना ही पड़े, छाते या रेन कोट का इस्तेमाल करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *