Virat Post

Rajasthan News Site

कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने दिया इस्तीफा, हार की ली नैतिक जिम्मेदारी

जयपुर। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के खराब प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने इस्तीफे की पेशकश की थी, लेकिन पार्टी ने उनकी मांग को खारिज कर दिया। इसके बाद कई प्रदेशों में कांग्रेस की करारी हार को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। राजस्थान में भी सियासत काफी गर्म नजर आ रही है। इसको लेकर गहलोत मंत्रिमंडल में शामिल लालचंद कटारिया ने कृषि मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। लालचंद कटारिया ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के माध्यम से राज्यपाल को इस्तीफा भिजवाया है।


कटारिया ने राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के खराब प्रदर्शन की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए हार कबूल की है। उन्होंने कहा कि वे जनता की आवाज को विधानसभा में उठाते रहेंगे। उन्होंने साफ किया कि उन्होंने नैतिक आधार पर हार की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसको किसी अन्य कारण से जोड़कर न देखा जाए। कटारिया अपने बूथ और झोटवाड़ा में हार से व्यथित थे। उन्होंने कहा है कि मेरे इस्तीफे का अन्य कोई कारण नहीं जोड़ा जाए। इस्तीफे के बाद मैं जनता की समस्याओं को विधानसभा में खुलकर रख सकूंगा।


उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव में राजस्थान की सभी 25 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की है। राजस्थान में कांग्रेस खाता भी नहीं खोल पाई, जबकि प्रदेश में उसकी सरकार है। भाजपा के सभी प्रत्याशियों ने बड़े मार्जिन से जीत दर्ज की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *