Virat Post

Rajasthan News Site

लोकतंत्र की मजबूती के लिए जनादेश को स्वीकार करती है कांग्रेस

जयपुर। लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के चलते कई राज्यों में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया है। इससे राजस्थान भी अधूरा नहीं रहा। राजस्थान की 25 लोकसभा सीटों पर भाजपा ने एक बार फिर कब्जा जमा लिया है। कांग्रेस पिछली बार की तरह इस बार भी खाली हाथ रही।


गुरुवार को लोकसभा चुनाव नतीजे आने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि वह जनादेश को विनम्रता के साथ स्वीकार करते हैं। उन्होंने लोकसभा चुनाव और मतगणना के दौरान राज्य में शांति बनाए रखने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा से लोकतंत्र के मानकों को मानती रही है और लोकतंत्र की मजबूती सुनिश्चित करने के लिए लोगों के फैसले को स्वीकार करती है।


गहलोत ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में सभी कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की नीतियों को लागू करने के लिए कड़ी मेहनत की। उन्हें हतोत्साहित होने की जरूरत नहीं है। हमें लोकतंत्र को मजबूत करने और इस दिशा में काम जारी रखने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लिए देश सर्वोपरि है, जबकि भाजपा के लिए सत्ता सर्वोपरि है।


सीएम ने कहा कि राहुल गांधी विकास के मुद्दे को आगे रख चुनाव लड़े, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आदर्श आचार संहिता का अनादर करते हुए धर्म, जाति, सेना के पराक्रम और वीरता के आधार पर लड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *