Virat Post

Rajasthan News Site

29वीं बार चुनावी मैदान में उतरे तीतर सिंह, बनाना चाहते हैं हार का रिकॉर्ड

जयपुर। लोकसभा चुनाव का प्रचार अपने चरम पर है। राजस्थान में दो चरणों में होने वाले चुनाव के लिए प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल कर दिए हैं। भाजपा-कांग्रेस सहित निर्दलीय प्रत्याशी भी चुनावी मैदान में ताल ठोक रहे हैं। इस चुनावी में मैदान में एक ऐसा प्रत्याशी भी है जो एक बार नहीं बल्कि 28 बार हार का मुंह देख चुका है और इस बार फिर चुनावी मैदान में खड़ा है। जी हां, इस प्रत्याशी का नाम है तीतर सिंह।


श्रीगंगानगर लोकसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल करने वाले तीतर सिंह 3 बार वार्ड पंच, सरपंच, पंचायत समिति डायरेक्टर, 10 बार विधानसभा चुनाव और 8 बार लोकसभा चुनाव हार चुके हैं। वे 9वीं बार लोकसभा चुनाव के मैदान में उतर चुके हैं।


तीतर सिंह का कहना है कि हार-जीत चलती रहती है। उनका मकसद चुनाव में खड़ा होना है। उन्होंने कहा कि अगर जनता ने उन्हें आशीर्वाद दिया और वे चुनाव जीत जाते हैं तो गरीबों का सरकारी कोटा दुगुना कर देंगे। इसके अलावा उनकी मजदूरी बढ़ाकर पांच सौ रुपए करेंगे। साथ ही हर गरीब आदमी को घर और पांच बीघा भूमि कृषि के लिए उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा।


बता दें कि देश में सबसे ज्यादा बार चुनाव में हारने का रिकॉर्ड जोगिन्द्र सिंह धरतीपकड़ का रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *