Virat Post

Rajasthan News Site

देश में आयुर्वेंद के लिए वैचारिक क्रांति की जरूरत : गोपीचंद गुर्जर

जयपुर (विराट पोस्ट)। भरतपुर जिले के नगर विधानसभा के पूर्व विधायक गोपीचंद गुर्जर ने कहा है कि देश में आयुर्वेद की नकली दवाओं के गोरखधंधे के कारण लोगों का विश्वास आयुर्वेद के प्रति नही जम पाया है, पर अब यह ज्यादा दिन नहीं चलेगा। नवग्रह आश्रम मोतीबोर का खेड़ा द्वारा दी जा रही आयुर्वेद व वानस्पतिक दवाईयों के आ रहे आश्चर्यचकित परिणामों से लोगों का एक बार फिर से आयुर्वेद के प्रति लगाव बढ़ रहा है। लोगों को आयुर्वेद के वास्तविक रूप को देखने के लिए नवग्रह आश्रम आना होगा।

पूर्व विधायक गुर्जर ने श्री नवग्रह आश्रम का अवलोकन किया तथा यहां मरीजों को दी जा रही दवाईयों व उसके संबंध में दिये जा रहे परामर्श व काउंसलिंग को बारीकी से देखा। बाद में उन्होंने नवग्रह वाटिका व नवग्रह आयुष विज्ञान मंदिर का भी अवलोकन किया। इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए पूर्व विधायक गुर्जर ने कहा कि आयुर्वेद के नाम पर देश में चल रहे गोरखधंधे को समाप्त करने के लिए सरकारी स्तर पर भी कड़े प्रयास उठाये जाने चाहिए ताकि देश की सनातन संस्कृति से जुड़े आयुर्वेद के प्रति लोगों का विश्वास बना रहे।

जय गुरूदेव आंदोलन से जुड़े व वैचारिक क्रांति को लेकर देश भर का भ्रमण कर रहे पूर्व विधायक गुर्जर ने कहा कि आयुर्वेद के औषधीय पौधों की वाटिका का निर्माण वो अपने क्षेत्र में भी करने का प्रयास कर लोगों को जागरूक करेगें। उन्होंने आश्रम के संस्थापक अध्यक्ष हंसराज चौधरी की कार्यशैली व उनकी दीवानगी की सराहना करते हुए कहा कि आज के दौर में आयुर्वेद के लिए भी वैचारिक क्रांति की जरूरत है, क्यों कि व्यक्ति के स्वस्थ्य होने पर सब समाधान होगा।

आश्रम संस्थापक हंसराज चौधरी ने पूर्व विधायक को आश्रम की गतिविधियों की जानकारी देकर साहित्य भेंट किया तथा सुरेंद्र सिंह ने उनको नवग्रह वाटिका व आयुष विज्ञान मंदिर का अवलोकन कराया। यह जानकारी आश्रम के मीडिया प्रभारी मूलचन्द पेसवानी ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *