Virat Post

Rajasthan News Site

कन्या पूजन करके भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने किया पदभार ग्रहण

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भेजा सतीश पूनिया को बधाई संदेश

जयपुर। राजस्थान के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने मंगलवार को आयोजित समारोह में कन्या पूजन कर प्रदेशाध्यक्ष पद का भार ग्रहण किया। सतीश पूनिया ने पार्टीं कार्यकतार्ओं के जयकारों के बीच पदभार ग्रहण किया। पदभार ग्रहण से पहले उन्होंने कन्या पूजन किया। पूनिया ने बीजेपी मुख्यालय में पत्नी, बेटे, बेटी के साथ कन्या पूजन किया और उसके बाद पदभार ग्रहण किया।

भाजपा मुख्यालय पर प्रदेशाध्यक्ष का पदभार ग्रहण करने के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूनियां ने संकल्प लेते हुए कहा कि 2023 के बाद राजस्थान कांग्रेस मुक्त होगा और भाजपा का अभेद्य किला कोई बनेगा तो राजस्थान बनेगा। ‘अजेय राजस्थान’ बनायेंगे..’अजेय भाजपा’ बनायेंगे। पूनियां ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सरकार ने अपने दस माह के कार्यकाल में किसानों और युवाओं के साथ-साथ आम जनता के साथ छलावा किया है। उन्होंने कहा, ‘आमतौर पर सत्ता विरोधी लहर तीन-चार साल के बाद विकसित होती है, लेकिन राज्य में कांग्रेस सरकार के दस महीने के कार्यकाल में ही यह लहर दिखाई दे रही है। पूनिया ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार ने लोगों के साथ विश्वासघात किया है और वह हर मोर्चे पर विफल रही है।

इस समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे नहीं पहुंच पाई। इस मौके पर पूर्व सीएम ने सतीश पूनिया को बधाई संदेश भेजा है। बधाई संदेश में वसुंधरा ने लिखा है कि आप युवा, मेहनती और ईमानदार छवि वाले एक अच्छे संगठनकर्ता हैं। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप कार्यकतार्ओंं की अपेक्षाओं पर खरा उतरते हुए संगठन को आगे बढ़ाएंगे। वसुंधरा ने लिखा है कि आपके पदभार ग्रहण समारोह में आने की मेरी प्रबल इच्छा थी। नवरात्रि पूजा अर्चना के तहत ब्राह्मण भोजन, कन्या प्रसादी और पूजा अर्चना का संकल्प का कार्यक्रम पहले से ही तय था, इसलिए कार्यक्रम में उपस्थित नहीं हो सकी। पदभार ग्रहण समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री राजे का पूनिया के नाम पत्र भी पढ़कर सुनाया गया।

कौन है सतीश पूनिया

मूलत: चूरू जिले के निवासी पूनिया का जन्म 20 दिसंबर, 1964 में हुआ था। पूनिया के पिता सुभाषचन्द्र पूनिया चूरू की राजगढ़ पंचायत समिति के प्रधान रहे। बीएससी, एमएससी और लॉ ग्रेजुएट राजस्थान विश्वविद्यालय से पीएचडी की डिग्री भी प्राप्त की है। पूनिया को पिछले महीने ही राजस्थान बीजेपी की कमान सौंपी गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *