Virat Post

Rajasthan News Site

भू-जल स्तर बढ़ाने जल संग्रहण के अधिकाधिक कार्य कराये जायेंगे : पंचायती राज मंत्री

जयपुर। उप मुख्यमंत्री तथा ग्रामीण विकास एवं सचिन पायलट ने कहा कि हमारी सरकार ने राज्य की ग्रामीण जनता को अधिकाधिक राहत एवं रोजगार के अवसर प्रदान करने हेतु मनरेगा योजना को वृहद स्तर पर स्थापित किया है।

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि राजस्थान अब मानवदिवस सृजन की दृष्टि से देश में पश्चिम बंगाल के पश्चात् दूसरे स्थान पर आ गया है तथा वर्ष 2018-19 में सृजित मानवदिवस गत् 7 वर्षों में अधिकतम रहे हैं। इसी प्रकार वर्ष 2019-2020 के प्रथम चार माह में ही प्रदेश में मनरेगा के तहत 19 करोड़ मानवदिवस सृजित किये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ग्राम पंचायतों में 10 हजार चारागाह विकास कार्य, आदर्श तालाब विकास, खेल मैदान विकास, कब्रिस्तान/शमशान विकास कार्य हाथ में लिये गये हैं तथा प्रगतिरत हैं।

पायलट ने कहा कि प्रदेश में इस बार वर्षा काफी अच्छी हो रही हैं इसलिए वर्षा के जल का संचय करने हेतु प्रदेश में लगभग 1.5 लाख टांका निर्माण कार्य नरेगा के तहत स्वीकृत किये गये हैं, ताकि वर्षा जल का सदुपयोग किया जा सके। इसके साथ ही छतों पर जल संचय अवसंरचना निर्माण को नरेगा के तहत अनुमत करने हेतु भारत सरकार को प्रस्ताव प्रेषित कर दिये गये हैं। भारत सरकार की स्वीकृति प्राप्त होने पर राजकीय भवनों तथा अन्य परिसम्पत्तियों की छतों पर वर्षा जल संग्रहण हेतु संरचनाओं का निर्माण कर वर्षा जल का अधिकतम सदुपयोग सुनिश्चित किया जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *